प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना: कैसे करें आवेदन और क्या हैं इसके लाभ

भारत सरकार ने गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की बेटियों की शादी के लिए प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना की शुरुआत की है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य है गरीब परिवारों की बेटियों की शादी में आर्थिक सहायता प्रदान करना। यह योजना विभिन्न राज्यों में अलग-अलग नामों और लाभों के साथ संचालित की जा रही है। आइए जानते हैं इस योजना के बारे में विस्तार से और कैसे आप इसका लाभ उठा सकते हैं।

      
                    WhatsApp Group                             Join Now            
   
                    Telegram Group                             Join Now            

प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना के लाभ

प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत सरकार गरीब परिवारों की बेटियों को शादी के समय आर्थिक सहायता प्रदान करती है। अलग-अलग राज्यों में इस योजना के तहत विभिन्न राशि प्रदान की जाती है। कुछ राज्यों में 51,000 रुपये, कुछ में 71,000 रुपये, और कुछ में 81,000 रुपये तक की सहायता राशि दी जाती है। यह राशि शादी से तीन दिन पहले सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में जमा की जाती है, ताकि इसका उपयोग शादी की तैयारियों में किया जा सके।

आवेदन कैसे करें

प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना का लाभ उठाने के लिए आपको निम्नलिखित कदमों का पालन करना होगा:

  1. ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरें:
  • सबसे पहले आपको अपने फोन या लैपटॉप में आधिकारिक वेबसाइट uidi.gov.in पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर “चेक आधार वैलिडिटी” विकल्प पर क्लिक करें।
  • आधार नंबर, कैप्चा कोड भरें और “प्रोसीड” पर क्लिक करें।
  • यदि आपके आधार कार्ड के साथ मोबाइल नंबर लिंक नहीं है, तो पहले उसे लिंक कराएं।
  1. राज्य का चयन करें:
  • राज्य के चयन के बाद आपको अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।
  • उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में “मुख समाज कल्याण विभाग” के तहत इस योजना के लिए आवेदन किया जा सकता है।
  • आवेदन करने के लिए आपको वधु और वर पक्ष का विवरण, आधार नंबर, नाम, जन्म तिथि, और मोबाइल नंबर भरना होगा।
  1. डिक्लेरेशन और वेरिफिकेशन:
  • फॉर्म भरने के बाद आपको डिक्लेरेशन देना होगा और सबमिट करना होगा।
  • इसके बाद आपके फॉर्म का वेरिफिकेशन किया जाएगा।
  • कुछ राज्यों में वेरिफिकेशन टीम आपके घर आएगी और आपकी जानकारी को सत्यापित करेगी।
  • वेरिफिकेशन के बाद आपके बैंक खाते में सहायता राशि जमा कर दी जाएगी।

ऑफलाइन आवेदन कैसे करें

अगर आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो निम्नलिखित प्रक्रिया अपनाएं:

  1. समाज कल्याण विभाग के कार्यालय जाएं:
  • अपने राज्य के समाज कल्याण विभाग के कार्यालय में जाकर आवेदन फॉर्म भरें।
  • वहां आपको वधु और वर पक्ष का विवरण, आधार नंबर, नाम, जन्म तिथि, और मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • फॉर्म भरने के बाद आपको तुरंत वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जाएगा।
  1. वेरिफिकेशन प्रक्रिया:
  • आपके फॉर्म का वेरिफिकेशन समाज कल्याण विभाग के अधिकारी द्वारा किया जाएगा।
  • वेरिफिकेशन के बाद आपके बैंक खाते में सहायता राशि जमा कर दी जाएगी।

सामूहिक विवाह योजना

प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना के साथ-साथ मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना भी संचालित की जा रही है। इस योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों की सामूहिक शादियों को आयोजित करना है। सामूहिक विवाह योजना के तहत निम्नलिखित लाभ प्रदान किए जाते हैं:

  • वधु को 35,000 रुपये
  • वर को 10,000 रुपये
  • विवाह के सामान के लिए 25,000 रुपये

सामूहिक विवाह योजना के लिए भी आपको ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन प्रक्रिया लगभग समान है और इसमें भी वेरिफिकेशन के बाद सहायता राशि सीधे बैंक खाते में जमा की जाती है।

योजना का उद्देश्य

प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना और मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब परिवारों की बेटियों की शादी में आर्थिक सहायता प्रदान करना और उन्हें सामाजिक सुरक्षा देना है। इन योजनाओं के माध्यम से सरकार ने समाज में एक सकारात्मक परिवर्तन लाने का प्रयास किया है, जिससे गरीब परिवारों को शादी के खर्चों में मदद मिल सके।

निष्कर्ष

प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना और मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। इन योजनाओं के तहत प्रदान की जाने वाली आर्थिक सहायता से गरीब परिवारों की बेटियों की शादी में आने वाले खर्चों को कम किया जा सकता है। अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो जल्द ही ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करें और इस योजना के लाभों का फायदा उठाएं।

1 thought on “प्रधानमंत्री कन्या विवाह योजना: कैसे करें आवेदन और क्या हैं इसके लाभ”

  1. Vsu shsgwh wj wneobwbwvwivshs isgsu acha java cahv anajinqvaivsure jvauv sigsivs vachavihsvs bczivdbsovs bdivsubs sjczu sn s ixvbsjs esj sbsjvdj d bdgkd d k sjsbovehejd jd nshvs

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top